खेतीफसलें

प्रमुख भारतीय फसलें एवं उनका वर्गीकरण

सामान्तया भारतीय फसलों का वर्गीकरण अनेक बिन्दुओ को ध्यान में रखते हुए कई प्रकार से किया जा सकता है

  • ऋतु आधारित

  • जीवनचक्र आधारित

  • आर्थिक आधारित

  • विशेष उपयोग आधारित

1.     ऋतु आधारित

   ख‍रीफ फसलें

  1. जून-जुलाई में  बारिश से बुवाई की जाती है  (मानसून की फसल)।
  2. सितंबर-अक्टूबर में कटाई की जाती है
  3. ऐसी फासले बहुत पानी और गर्म मौसम की मांग करती हैं।
  4. उदहारण : धान, बाजरा , मक्‍का, कपास, मूँगफली, शकरकन्‍द, उर्द, मूँग , लोबिया,  ज्‍वार, तिल,  ग्‍वार, जूट, सनई, अरहर,  गन्‍ना, सोयाबीन, भिंण्‍डी

    रबी फसलें

  1. अक्टूबर-नवंबर में बुवाई की जाती है तथा अप्रैल-मई में कटाई
  2. बीज के अंकुरण के लिए गर्म जलवायु की आवश्यकता होती है,  विकास और परिपक्वता  के लिए ठंड जलवायु की ।
  3. उदारहण : गेहूँ, जौं, चना, सरसों, मटर, बरसीम, रिजका, मसूर, आलू, तम्‍बाकू, लाही, जंई

    जायद फसलें

  1. रबी और खरीफ फसल सीजनों के बीच में इन फसलो की बुवाई और कटाई संपन्न की जाती है, मुखयतः मार्च-जून के बीच का समय काल इनका होता है।
  2. प्रारंभिक परिपक्व फसलों
  3. कद्दू, खरबूजा, तरबूज, लौकी, तोरई, मूँग,  खीरा, मीर्च, टमाटर, सूरजमूखी

2.       जीवनचक्र आधारित फसलें

एकवर्षीय फसलें 

धान, गेहूँ ,चना, ढैंचा, बाजरा, मूँग,कपास, मूँगफली,सरसों,आलू,शकरकन्‍द,कद्दू,लौकी, सोयाबीन

द्विवर्षीय

चुक्कन्‍दर, प्‍याज

बहूवर्षीय

नेपियर घास, रिजका,फलवाली फसलें

3.       आर्थिक आधारित

अन्‍न या धान्‍य फसलें

धान, गेहूँ , जौं, चना, मक्‍का, ज्‍वार, बाजरा,

मसाले वाली फसलें

अदरक, पुदीना, प्‍याज, लहसुन, मिर्च, धनिया, अजवाइन, जीरा, सौफ, हल्‍दी, कालीमिर्च, इलायची और तेजपात

रेशेदार फसलें

जूट, कपास, सनई, पटसन, ढेंचा

चारा फसलें

बरसीम, लूसर्न (रिजका), नैपियर घास, लोबिया, ज्‍वार

फलदार फसलें

आम, अमरूद, नींबू,लिचि, केला, पपीता,सेब, नाशपाती,

औषधीय फसलें

पोदीना, मेंथा, अदरक, हल्‍दी, और तुलसी

तिलहनी फसलें

सरसों, अरंडी, तिल, मूँगफली,सूरजमूखी, अलसी, कुसुम, तोरिया, सोयाबीन और राई

दलहनी फसलें

चना, उर्द, मूँग, मटर, मसूर, अरहर, मूँगफली, सोयाबीन

जड एवं कन्‍द

आलू, शकरकन्‍द, अदरक, गाजर, मूली, अरबी, रतालू, टेपियोका, शलजम

उद्दीपक

तमबाकू, पोस्‍त, चाय, कॉफी, धतूरा, भांग

शर्करा

चुकन्‍दर, गन्‍ना

4.       विशेष उपयोग आधारित

अन्‍तर्वती फसले

उर्द, मूँग, चीना, लाही, सांवा, आलू

नकदी फसलें

गन्‍ना, आलू, तम्‍बाकू, कपास , मिर्च, चाय, काफी,

मृदा रदक्षक फसलें

मूँगफली, मूँग, उर्द, शकरकन्‍द, बरसीम, लूसर्न (रिजका)

हरी खाद

मूँग, सनई, बरसीम, ढैचां, मोठ, मसूर,ग्‍वार, मक्‍का, लोबिया, बाजरा

प्रमुख फसलों को उपयोग के आधार पर चार मुख्य श्रेणियों में विभाजित किया जा सकता है:

खाद्य फसल

गेहूं, मक्का, चावल, बाजरा और दलहन आदि

नकदी फसल

गन्ने, तंबाकू, कपास, जूट और तिलहन आदि

बागान की फसल

कॉफी, नारियल, चाय और रबड़ आदि

बागवानी फसल

फल और सब्जियां

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

Close
Close